Chemistry

मिश्रण किसे कहते हैं परिभाषा, उदाहरण, समांगी और विषमांगी मिश्रण (mishran kise kahate hain in hindi)

मिश्रण किसे कहते हैं परिभाषा, उदाहरण, समांगी और विषमांगी मिश्रण (mishran kise kahate hain in hindi)

मिश्रण किसे कहते हैं (mishran kise kahate hain)  समांगी मिश्रण विषमांगी मिश्रण किसे कहते हैं परिभाषा तथा उदाहरण इसके अलावा यहां पर द्रव्य संगठन का हम काफी ज्यादा अच्छे से अध्ययन करने वाले हैं तो आप पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढ़ें हम आपको बता दें कि आप लोगों को यहां पर द्रव्य का वर्गीकरण से ही निकल कर आता है मिश्रण और सामान्य मिश्रण तथा अन्य चीजें भी निकल कर आती है जब किसी भी धर्म का वर्गीकरण किया जाता है तभी यह सारी चीजें निकल कर आती हैं तो सबसे पहले हम बात कर लेते हैं द्रव्य तो द्रव्य दो प्रकार के होते हैं पहला शुद्ध पदार्थ और दूसरा अशुद्ध पदार्थ या मिश्रण से बने होते हैं शुद्ध पदार्थ में दो प्रकार के होते हैं पहला तत्व और दूसरा योगिक अगर हम द्रव्य के बारे में बात करें तो धर्म तीन प्रकार के होते हैं तत्व यौगिक और मिश्रण तो चलिए हम इन तीनों के बारे में अच्छे से अध्ययन करते हैं और आपको बताते हैं कि मिश्रण किसे कहते हैं और मिश्रण के बारे में पूरी जानकारी आपको प्रदान करने वाले हैं

मिश्रण किसे कहते हैं परिभाषा (mishran kise kahate hain)

मिश्रण की परिभाषा : “वे  द्रव्य जो दो या दो से अधिक द्रव्यों के किसी भी अनुपात में मिला देने पर बनते हैं मिश्रण कहलाते हैं। मिश्रण के गुण उसके अवयव के गुणों का मिश्रण होते हैं”  मिश्रण किसे कहते हैं दूसरे शब्दों में – किसी भी दो पदार्थ को मिलाने पर जो पदार्थ तैयार होता है उसको हम मिश्रण कहते हैं चाहे फिर मात्रा कम हो या ज्यादा इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है अगर किसी भी द्रो को दूसरे दलों में मिलाया जाता है और उससे एक नया ग्रुप बन जाता है तो उसे मिश्रण कहते हैं जैसा कि नमक का घुलना। 
मिश्रण किसे कहते हैं परिभाषा (mishran kise kahate hain)

मिश्रण किसे कहते हैं उदाहरण सहित (What is a mixture called with examples in hindi)

वे  द्रव्य जो दो या दो से अधिक द्रव्यों के किसी भी अनुपात में मिला देने पर बनते हैं मिश्रण कहलाते हैं।  उदाहरण :- चीनी और नमक का मिश्रण, नमक तथा पानी का मिश्रण , लकड़ी के बुरादे तथा लोहे के कणों का मिश्रण, यह मिश्रण के कुछ प्रमुख उदाहरण है। 

मिश्रण के कितने प्रकार होते हैं (how many types of mixtures are there in hindi)

मिश्रण के दो प्रकार होते हैं समांगी तथा विषमांगी अब हम इनके बारे में पूर्णतया अध्ययन करेंगे और पूरी डिटेल से जानेंगे पोस्ट को लाख तक जरूर पढ़ें
  1. समांगी मिश्रण 
  2. विषमांगी मिश्रण

समांगी मिश्रण किसे कहते हैं (samangi mishran kise kahate hain) 

जिस मिश्रण के किसी भी भाग का संघटन उसके किसी भी दूसरे भाग के संघटन के समान होता है उसे समांगी मिश्रण कहते हैं

समांगी मिश्रण के उदाहरण (examples of homogeneous mixtures in hindi)

समांगी मिश्रण के उदाहरण में नमक तथा जल का मिश्रण एक समांगी मिश्रण है, चीनी तथा जल का मिश्रण भी एक समांगी मिश्रण है।  

विषमांगी मिश्रण किसे कहते हैं (what is a heterogeneous mixture called in hindi)

जिस मिश्रण के विभिन्न भागों का संघटन एक दूसरे से भिन्न होता है उसे विषमांगी मिश्रण कहते हैं

विषमांगी मिश्रण के उदाहरण (examples of heterogeneous mixtures IN HINDI)

विषमांगी मिश्रण के उदाहरण में है जैसे चीनी और नमक का मिश्रण एक विषमांगी मिश्रण है, जल तथा तेल का मिश्रण एक विषमांगी मिश्रण है। 

समांगी मिश्रण विषमांगी मिश्रण से किस प्रकार भिन्न है उदाहरण सहित (How homogeneous mixture is different from heterogeneous mixture with examples IN HINDI)

समांगी मिश्रण तथा विषमांगी मिश्रण में एक प्रमुख भिन्न है कि समांगी मिश्रण के विभिन्न अवयवों की सीमाओं को पृथक रूप से देखा नहीं जा सकता है जबकि विषमांगी मिश्रण के विभिन्न अवयवों की सीमाओं को पृथक रूप से देखा जा सकता है उदाहरण के लिए जल तथा चीनी का मिश्रण एक समांगी मिश्रण है इस मिश्रण के अवयव पृथक पृथक दिखाई नहीं देते हैं इसके विपरीत लोहे की चिलम तथा बालू के रेट तथा चीनी का मिश्रण एक विषमांगी मिश्रण है तथा इस मिश्रण में इसके आयोग को तथा इसके करण को पृथक पृथक दिखाई देते हैं या देखा जा सकता है यह एक बहुत बड़ी भिन्नता होती है सामान्य और विषमांगी मिश्रण में।  

विलयन किसे कहते हैं (what is a solution called in hindi)

दो या दो से अधिक पदार्थों के सामान्य मिश्रण को विलयन  कहते हैं समांगी मिश्रण के प्रत्येक भाग की रचना एक सी होती है मतलब एक जैसी ही होती है सामान्यतया अगर हम लोग देखें तो समांगी मिश्रण में जो अवयव अधिक मात्रा में होता है उसे विलायक कहते हैं तथा जो अवयव कम मात्रा में होता है उसे विलेय कहते हैं  विलयन  द्रव की ठोस, द्रव और गैस की अवस्था में हो सकता है इस आधार पर कुल 9 प्रकार के विलेन होते हैं
  • ठोस का ठोस में विलयन  : उदाहरण – पीतल (brass) ; यह जस्ते (20 %) है तथा का पर (80 %) के मिश्र धातु है
  • ठोस का द्रव में विलयन : उदाहरण – नमक का जल में विलयन है
  • ठोस का गैस में विलयन : उदाहरण – धुंआ : यह कार्बन का आयु में विलयन 
  • द्रव का ठोस में विलयन : उदाहरण – जैली 
  • द्रव का द्रव में विलयन  : उदाहरण  – मदिरा ; यह एथिल एल्कोहल का जल में  बिलयन है
  • द्रव का गैस में बिलयन : उदाहरण  – वायु में जल – वाष्प 
  • गैस का ठोस में विलयन : उदाहरण – हाइड्रोजन गैस  तथा पैलेडियम धातु का समांगी मिश्रण 
  • गैस का द्रव में विलयन : उदाहरण – सोडा – वाटर 
  • गैस का गैस में विलयन  : उदाहरण – वायु 

also read 

निष्कर्ष (Conclusion in hndi)

जैसा कि आप लोग देख पा रहे हैं कि हमने आप लोगों को यहां पर मिश्रण के बारे में बताया है सामान्य मिश्रण क्या होता है तथा विषमांगी मिश्रण क्या होता है इसके अलावा हम लोग यहां पर विलयन  और विलायक और अन्य सभी चीजों के बारे में बहुत ही गहन अध्ययन किया है और बहुत ही अच्छी और जबरदस्त जानकारियां को प्रदान किया है अगर आपको जानकारी पसंद आती है तो हमारी वेबसाइट पर बहुत सारे इसी तरह से उपलब्ध है पोस्ट आप उनको पढ़ सकते हैं और अपनी जानकारी को अच्छी खासी जानकारी के लिए बढ़ा सकते हैं यहां पर सरल शब्दों में बहुत ही अच्छी अच्छी जानकारी आप लोगों को देखने को मिलेगा तो पोस्ट को पढ़ें और अपने मित्रों और दोस्तों के साथ में शेयर भी करें यहां पर आप लोगों को कुछ अन्य पोस्ट भी दिए जा रहे हैं उनको भी आप लोग पढ़ना बिल्कुल भी ना भूले और पढ़िए 

Pandit Rama Shanker

My name is Ramashankar, I love to discover new things about movies and my favorite celebrity from box office collections of movies like entertainment, [email protected]
Back to top button
error: Alert: Content selection is disabled!!

Adblock Detected

remove adblockers